Sarkari Yojana

Solar Panel Subsidy: सरकार द्वारा इस योजना में 40% सब्सिडी जल्दी करें आवेदन 

Written by Trending News

Solar Panel Subsidy: सरकार द्वारा इस योजना में 40% सब्सिडी जल्दी करें आवेदन 

Solar Panel Subsidy: महत्वपूर्ण है। सौर पैनल का उपयोग सौर ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में परिवर्तित करने के लिए किया जाता है। हालांकि, सौर पैनलों की महंगाई के कारण अधिकांश लोग इसका उपयोग नहीं करते हैं। इस समस्या को देखते हुए सरकार ने सौर पैनलों को बढ़ावा देने के लिए सब्सिडी प्रदान करने का निर्णय लिया है। इससे ज्यादा से ज्यादा लोग सौर ऊर्जा का उपयोग कर सकते हैं। भारत सरकार द्वारा नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा सौर पैनलों का उपयोग करने के लिए सब्सिडी प्रदान करने के लिए सोलर रूफटॉप योजना की शुरुआत की गई है। अब भारत के नागरिक इस योजना के तहत अपने घरों की छतों पर सौर पैनल स्थापित करने के लिए आवेदन कर सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं। इससे भारत की सौर ऊर्जा क्षमता में भी वृद्धि होगी।

सोलर पैनल पर 40% सब्सिडी

सोलर पैनल पर 40% सब्सिडी

भारत में सौर पैनल सब्सिडी – सोलर रूफटॉप योजना

सौर ऊर्जा का उपयोग करने के लिए नवीन और नवीकरणीय मंत्रालय (MNRE) ने सोलर रूफटॉप योजना के फेज 2 की शुरुआत की है। यह योजना प्रत्येक राज्य की स्थानीय विद्युत वितरण कंपनी DISCOM के द्वारा क्रियान्वित की जाएगी। इस योजना में नागरिकों को ऑन-ग्रिड सौर सिस्टम स्थापित करने के लिए ही सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

 

इस योजना के तहत, अगर कोई नागरिक 3 किलोवाट तक का सौर पैनल अपने घर पर स्थापित करना चाहता है तो उसे 40% सब्सिडी DISCOM द्वारा प्रदान की जाएगी। और इसी तरह, यदि वह 3 किलोवाट से 10 किलोवाट क्षमता वाला सौर पैनल स्थापित करता है, तो उसे 20% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

आफिशियल वेबसाइट 👉https://solarrooftop.gov.in/

इस योजना का लाभ नागरिक को तभी मिल सकता है जब वह डिस्कॉम कंपनी द्वारा चयनित विक्रेता से ही सौर पैनल स्थापित करवाता है। इस योजना में विक्रेताओं का चयन डिस्कॉम द्वारा निविदा के माध्यम से होता है।

कुसुम योजना: देशवासियों के लिए सौर पैनल स्कीम

भारत सरकार ने कृषि क्षेत्र के उन्नति के लिए प्रधानमंत्री कुसुम योजना की शुरुआत की है। इस योजना के अंतर्गत, सरकार किसानों को सोलर पम्प स्थापित करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करेगी, जिससे किसान अपनी कृषि की जरूरतों को पूरा कर सकता है और यदि उसका बिजली उत्पादन अधिक होता है तो उसे ग्रिड को बेच सकता है जिससे उसे और आर्थिक लाभ होगा।

सोलर रूफटॉप योजना के लाभ

इस योजना के लाभों की एक सूची है:

सब्सिडी प्राप्ति: इस योजना के तहत, अधिक से अधिक नागरिक सोलर पैनल्स को स्थापित करने पर सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं, जिससे वे कम खर्च में सोलर प्लांट स्थापित कर सकते हैं।

विक्रेता का आभास: इस योजना में सोलर प्लांट को स्थापित करने वाले विक्रेता को प्लांट का 5 साल तक रखरखाव करने के लिए प्रतिबद्ध रहना होगा, जिससे यदि कोई खराबी होती है, तो उसे निःशुल्क मरम्मत मिलती है।

बिजली बचत: योजना के अंतर्गत लगाए जाने वाले सोलर पैनल्स ऑन-ग्रिड माध्यम से जुड़े होंगे, जिससे उपभोक्ताओं को बिजली बिल में छूट मिलेगी।

पर्यावरण सजीवता: सोलर पैनल स्थापित करने से पर्यावरण को कोई नुकसान नहीं होगा और ग्रीन हाउस गैसेस को कम किया जा सकेगा।

सौर ऊर्जा की वृद्धि: इस योजना से भारत में सौर ऊर्जा के अधिक प्रयोग से ऊर्जा क्षमता में वृद्धि होगी।

सोलर पैनल सब्सिडी राज्यों के अनुसार

भारत के प्रत्येक राज्य में सोलर पैनल स्थापित करने पर कुल राशि अलग हो सकती है, जो उस राज्य की डिस्कॉम पर निर्भर करती है। नीचे दी गई सारणी में धनराशि का संक्षेप है, जो समय के साथ कम या ज्यादा हो सकती है।

 

State

Solar Panel Cost (INR)Subsidy Amount (INR)Total Cost with Subsidy for Solar System Installation (INR)
Maharashtra41,40016,56028,000 to 55,000
Delhi39,00016,60030,000 to 60,000
Uttar Pradesh37,00014,80030,000 to 60,000
Haryana39,50015,80029,000 to 54,000
Madhya Pradesh39,00015,64030,000 to 55,000
Gujarat41,00016,39028,000 to 53,000

About the author

Trending News

Leave a Comment